अब बिहार के हाईवे पर लगेगी स्पीड राडार गन। ओवर स्पीड वाहनों पर लगेगी लगाम। इन पांच हाईवे से हो रही शुरुआत।

बिहार में हाईवे पर बड़ी संख्या में रोड एक्सीडेंट तेज रफ्तार वाहनों के कारण हो रहे हैं। अब इन पर लगाम लगाने के लिए सरकार ने राज्य के प्रमुख हाईवे पर स्पीड गन से लैस पुलिस को तैनात करने जा रही है। इसकी शुरुआत राज्य से गुजर रहे पांच राष्ट्रीय राजमार्ग पर लगाकर की जायेगी। धीमे- धीमे कर सभी प्रमुख मार्ग पर स्पीड गन स्थापित कर दी जायेंगी।

यमुना एक्सप्रेस वे का अध्ययन करेगी टीम।

बता दें कि बिहार में इन पांच हाइवे पर 1400 किलोमीटर में 114 हॉट स्पॉट हैं। यहां राज्य में कुल हादसों में 50 फीसद हादसे इन्हीं स्थानों पर होते हैं। तेलंगाना की प्रणाली का अध्ययन करने के बाद अधिकारियों की टीम यूपी में जा रही है। यमुना एक्सप्रेस वे पर लगे सिस्टम का तकनीकी अध्ययन किया जायेगा। स्पीड रडार गन निर्धारित गति से अधिक तेज चलने वाले वाहनों को नम्बर प्लेट के साथ फोटो खींच लेती है। इसके बाद वाहन मालिक को स्वत: चालान चला जाता है।

इन पांच हाईवे से हो रही शुरुआत।

एनएच – 2 कैमूर, रोहतास, औरंगाबाद व गया

एनएच – 28 बेगूसराय, मुजफ्फरपुर व गोपालगंज

एनएच – 30 पटना-भोजपुर

एनएच – 31 नवादा, बिहारशरीफ, पटना बेगूसराय, खगड़िया, पूर्णिया व किशनगंज

एनएच – 57 मुजफ्फरपुर, दरभंगा, अररिया व पूर्णिया