छठ पूजा पर पटना में सुरक्षा के कड़े इंतजाम। सभी पुलिसकर्मियों की छुट्टियां रद्द। छठ घाटों पर विशेष इंतजाम।

दो वर्षों के अंतराल के बाद इस बार छठ पूजा काफी धूमधाम से मनाया जाएगा। ऐसे में इस बार श्रद्धालुओं की अधिक भीड़ जुटने की संभावना है। सुरक्षा के दृष्टिकोण से पटना जिला प्रशासन द्वारा कई कदम उठाए जा रहे हैं। असामाजिक तत्वों पर लगाम लगाने के लिए सभी छठ घाटों पर सिविल ड्रेस में पुलिस मौजूद रहेगी। हर थाने में अतिरिक्त बलों की तैनाती की गई। इस बात की जानकारी पटना एसएसपी मानवजीत सिंह ढिल्लों ने दी।

घाटों पर दंगा निरोधक कंपनियां तैनात।

बता दें कि पटना में सशस्त्र पुलिस और दंगा निरोधक की 10 कंपनियां तैनात की गयी है। इसके अलावा पटना में विभिन्न घाटों पर 1500 से अधिक पुलिस बल तैनात रहेंगे। एसएसपी ने छठ को लेकर एक कंट्रोल रूम भी बनाया है, जिसमें शिकायतों को सुना जायेगा। एसएसपी ने सभी थानाध्यक्षों को निर्देश देते हुए कहा कि घाट के पास कोई भी असामाजिक तत्वों जमावड़ा नहीं होने दे। संदिग्ध लोगों तुरंत डिटेन करें और जांच के बाद आगे की कार्रवाई करें।

घाटों पर तैनात रहेंगे गोताखोर।

बताया गया है कि छठ के दौरान इन्फ्लैटेबेल मोटरबोट एवं देसी नाव उपलब्ध है। नदी घाटों पर प्रशिक्षित गोताखारों, तैराकों व बोट चालकों की प्रतिनियुक्ति लाइफ जैकेट / मोटरबोट / देसी नाव आदि के साथ की गयी है। नहाय-खाय से लेकर सुबह के अर्घ्य देने तक निजी नावों के परिचालन पर रोक रहेगी। घाटों पर पटाखा छोड़ने पर भी प्रतिबंध रहेगा। पटना जिला में 30 डीएसपी रैंक के पदाधिकारी रहेंगे। छठ महापर्व को लेकर एसएसपी ने सभी पुलिसकर्मियों की छुट्टी रद्द कर दी है। इसके अलावा जो छुट्टी पर है उन्हें भी ड्यूटी ज्वाइन करने को कहा गया है। साथ ही साथ घाटों पर वॉच टावर से पुलिस भी निगरानी करेगी।