दरभंगा एम्स के निर्माण में तेजी लाने के निर्देश। 30 नवंबर तक पूरा हो जाएगा मिट्टी भराई का काम।

बिहार में राजधानी पटना के बाद दरभंगा में भी एम्स का निर्माण होना है। इसके निर्माण की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। हालांकि यह प्रक्रिया धीमी गति से चल रही थी जिसमें तेजी लाने का निर्देश दिया गया है। गुरुवार को डीएम राजीव रौशन व एम्स के कार्यपालक निदेशक माधवानंद कर की संयुक्त अध्यक्षता में समाहरणालय में एक बैठक हुई। इसमें निर्माण कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए गए।

30 नवंबर तक कराना होगा मिट्टी भराई का काम।

बैठक में पाया गया कि बीएमएसआइसीएल द्वारा कराए जाने वाले कार्य की प्रगति धीमी है। डीएम ने इस पर नाराजगी जतायी। उन्हें निर्देशित किया गया कि कार्य में तेजी लाएं। मिट्टी भरने एवं खाली भवनों को ध्वस्त करने का कार्य हर हाल में 30 नवंबर तक पूरा करने का निर्देश दिया। पथ निर्माण विभाग के पुराने खाली क्वार्टर को भी तत्काल ध्वस्त करने का निर्णय लिया गया।

नए हॉस्टल का निर्माण जल्द कराने का आदेश।

इसके साथ ही दरभंगा के जिलाधिकारी ने बीएमएसआइसीएल को शीघ्र नया हॉस्टल बनाने का निर्देश दिया, ताकि पुराने हॉस्टल को खाली कराकर एम्स को दिया जा सके। डीएम ने कहा कि एम्स निर्माण को लेकर जो सक्रियता और तत्परता दिखनी चाहिए वो दिखाई नहीं दे रही है। न भवन का निर्माण समय पर पूरा हो रहा है ना मिट्टी की भराई अब तक हो पायी है। हर हाल एम्स निर्माण के लिए हो रहे विभिन्न कार्यों की गति बढ़ायी जाये।