पटना में दुर्गा पूजा के दौरान छेड़खानी करने वाले सीधे भेजे जाएंगे जेल। सादे लिबास में तैनात रहेगी महिला और जेंट्स पुलिस।

दुर्गा पूजा का त्यौहार इस बार 2 वर्षों के अंतराल पर धूमधाम से मनाया जा रहा है। नवमी और दशमी को भक्तों की भारी भीड़ बढ़ने की उम्मीद की जा रही है। ऐसे में कई असामाजिक तत्व भीड़ का फायदा उठाकर महिलाओं और युवतियों से छेड़खानी करते हैं। अब इनपर पूरी तरह से लगाम लगाने की तैयारी है। इसके लिए महिला व पुरुष पुलिसकर्मियों की सादे वेश में तैनाती की गयी है। साथ ही तमाम पंडालों में इस बार सीसीटीवी कैमरा लगाये गये हैं।

पुलिस को दिए गए ये निर्देश।

पुलिस के साथ ही पंडाल के कार्यकर्ताओं को भी यह हिदायत दी गयी है कि वे इस बात को सुनिश्चित करेंगे कि महिला व पुरुष अलग-अलग कतार में दर्शन करें। अगर कोई युवक महिलाओं की कतार में प्रवेश करने का प्रयास करता है, तो उस पर तुरंत कार्रवाई करें। अगर कोई छेड़खानी करते हुए पकड़ा जाता है, तो उसे तुरंत संबंधित थाना ले जाया जाएं और अगर पीड़िता प्राथमिकी करने से हिचकती है, तो पुलिस खुद अपने बयान पर केस कर उसे जेल भेजने की कार्रवाई करे।

बाइकर्स के लिए बनाए गए एंटी रेस टीम।

वहीं लोगों से यह अपील की गई है कि अगर कोई पुलिसकर्मी छेड़खानी पर करवाई नहीं करता तो उसका नेम प्लेट पढ़कर जानकारी तुंरत ही रेंज आइजी राकेश राठी, एसएसपी डॉ मानवजीत सिंह ढिल्लो या सिटी एसपी को दे सकते हैं। बाइकर्स व हुल्लड़बाजों पर नजर रखने के लिए पटना पुलिस की 36 एंटी रेस टीमें बनायी गयी हैं, जो विभिन्न प्वाइंट पर तैनात की गयी हैं। इसके अलावा आठ प्रमुख मार्गों अटल पथ, गंगा पथ, बेली रोड, दीघा-पटना रोड आदि जगहों पर सुरक्षा केंद्र भी बनाये गये हैं।

इन नंबरों पर कर सकते हैं संपर्क।

एसएसपी 9431822967

सिटी एसपी मध्य 9431822969

जिला नियंत्रण कक्ष 0612-2219810

/2219234

आपात नंबर सेवा 112

पुलिस नियंत्रण कक्ष 9470001389