बिहार के लिए बढ़ाई गई विमानों की संख्या। दिवाली- छठ पर घर आना होगा आसान।

दिवाली और छठ के त्यौहार पर बड़ी संख्या में लोग दूसरे महानगरों से बिहार पहुंचेंगे और फिर बिहार से वापस दूसरे शहर जाएंगे। ऐसे में बीते दिनों से विमानों की कमी के कारण विमान किराए में बेतहाशा वृद्धि हो गई थी। दरभंगा से अलग-अलग शहरों का किराया 25000 के पार जा चुका था। इसे देखते हुए दरभंगा से अलग-अलग रूटों पर विमानों की संख्या बढ़ाई गई है। अभी विमानों में बुकिंग कम होने की वजह से यात्री किराया भी काफी कम है। धीरे – धीरे बुकिंग बढ़ने पर किराया काफी बढ़ जाएगा।

अलग-अलग रूटों पर बढ़ाई गई विमानों की संख्या।

दरभंगा- मुंबई रूट पर छठ के पहले 28 और 29 अक्टूबर को प्रतिदिन तीन विमानों का संचालन होगा।
जबकि दिल्ली रूट पर 18 अक्तूबर से लगातार दो विमानों का आवागमन फिर से प्रारंभ किया जा रहा है। पहले की भांति 20 से बेंगलुरू रूट पर भी दो विमान उड़ान भरेंगे। इसके अलावा हैदराबाद व कोलकता रूट पर नियमित रूप से एक- एक विमान सेवा का परिचालन किया जायेगा। विमानों की सर्विस फिर से बढ़ाये जाने से पैसेंजरों को यात्रा में सहूलियत होगी। यात्रियों को अब पटना नहीं जाना पड़ेगा।

20 अक्टूबर के बाद महंगा है किराया।

बता दें कि 20 अक्तूबर को दिल्ली से दरभंगा के एक टिकट का मूल्य 10920 रुपया है। जबकि 22 अक्तूबर को दिल्ली से दरभंगा का किराया 20156 रूपया बताया जा रहा है। दो दिन के अंतराल में टिकट का दाम दोगुना हो गया है। जबकि मुंबई से यहां की यात्रा करने वाले यात्रियों को इस अंतराल में एक टिकट के लिये नौ हजार से 21 हजार तक चुकाना पड़ेगा। बेंगलुरु से दरभंगा का किराया भी लगभग इतना ही है।