बिहार के 10000 गांव में लगेगा 300 फीट गहरा चापाकल। किसी भी मौसम में पानी की नहीं होगी किल्लत।

जल्द ही बिहार के 10000 गांव में 300 फीट गहरा चापाकल लगाए जाएंगे। राज्य सरकार द्वारा प्रदेश के वैसे गांव में इस योजना को लागू करना है जहां पर गर्मी के दिनों में भूजल का लेयर नीचे चला जाता है और हैंडपंप सूख जाते हैं। पीएचईडी विभाग द्वारा 10000 गांव में एक- एक 300 फीट गहरा चापाकल लगाया जाएगा। आप लोगों 12 महीने 24 घंटे पानी मिलेगा।

6 महीने में पूरा करने का रखा गया लक्ष्य।

जानकारी के अनुसार गांवों में चापाकल लगाए जाने की योजना की स्वीकृति के लिए जल्द ही प्रस्ताव को कैबिनेट भेजा जायेगा। प्रस्ताव को स्वीकृति मिलने के बाद ऐसे गांवों का चयन होगा, जहां चापाकल लगाये जायेंगे। इस योजना को पूरा करने के लिए लगभग छह माह का लक्ष्य रखा जायेगा।

अगले 50 वर्ष को ध्यान में रखकर बनाई गई योजना।

विभाग ने अगले 50 वर्ष को देखते हुए 300 फुट गहरा चापाकल लगाने का निर्णय लिया है ताकि लोगों को हर माैसम में जरूरत का पानी मिलता रहे। अधिकारियों के मुताबिक बिहार में लोगों तक हर घर नल का जल पहुंचाया जा रहा है। इसके बावजूद ऐसे टोले और गांव को चिह्नित कर वहां के भूजल के स्तर को देखते हुए चापाकल लगाया जायेगा।