बिहार में 24 घंटे अलर्ट पर रहेगी फायर ब्रिगेड टीम। दिवाली- छठ के लिए 900 गाड़ियां तैनात।

बिहार में दिवाली और छठ पूजा के दौरान किसी भी तरह की अनहोनी से बचने के लिए फायर ब्रिगेड टीम को पूरी तरह से अलर्ट मोड पर रखा गया है। राज्य के सभी फायरमैन सहित अन्य अफसरों की छुट्टियां रद्द कर दी गई है। राजधानी पटना हो या राज्य का कोई भी जिला, हर जगह डिस्ट्रिक्ट कमांडेंट और फायर अफसर की टीम को एक्टिव मोड में रखा गया है। मालूम हो कि दिवाली और छठ के दौरान पटाखों की वजह से कई बार अगलगी की घटना हो जाती है।

3000 फायरमैन और 900 गाड़ियां एक्टिव मोड में।

बता दें कि बिहार में 107 फायर स्टेशन हैं। 3 हजार से अधिक फायर मैन से लेकर अफसर तक पोस्टेड हैं। जबकि, 900 से अधिक छोटी-बड़ी पानी से भरी गाड़ियां 24 घंटे एक्टिव मोड में रहेंगी। ताकि फेस्टिवल के दौरान छोटी या बड़ी आग लगने की घटना होने पर जल्द से जल्द उस पर काबू पाया जा सके। अगलगी के दौरान जान माल का नुकसान कम हो इसके लिए बिहार फायर सर्विसेज की DG शोभा अहोतकर की तरफ से खास निर्देश जारी किए गए हैं।।

इन नंबरों से मिलेगी मदद।

राज्य के किसी भी इलाके में फेस्टिवल के दौरान आग लगने की घटना होने पर स्थानीय लोग तुरंत इमरजेंसी नंबर 112 और 101 पर कॉल कर जानकारी देनी सकते हैं। टाइम पर सूचना मिलते ही फायर ब्रिगेड हेड क्वार्टर की तरफ से जल्द से जल्द सबसे नजदीक वाले फायर स्टेशन से हादसे वाली जगह पर गाड़ियों को भेजा जाएगा। तब कम से कम समय में हालत पर काबू पाने का काम शुरू हो सकेगा।