भागलपुर जिले में कोसी पर बनेगा बिहार का सबसे लंबा पुल। मुंबई की कंपनी को मिला निर्माण का जिम्मा।

वर्तमान में बिहार के कई नदियों पर पुलों का निर्माण कार्य चल रहा है। गंगा नदी पर पहले ही 5 किलोमीटर से लंबा गांधी सेतु पुल मौजूद है। इसके अलावा कई अन्य पुलों का निर्माण होना है। वहीं भागलपुर जिले में सूबे का सबसे लंबा फोरलेन पुल बनने जा रहा है। यह पुल भागलपुर के बिहपुर-वीरपुर के बीच कोसी नदी पर बन रहा है जो जिले में ही बन रहे सुल्तानगंज अगवानी घाट पुल से लंबा होगा।

मुंबई की इस कंपनी को मिला काम।

बता दें कि इस पुल के बनने से दक्षिण और उत्तर बिहार की दूरी कम हो जाएगी। सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय (MORTH) ने भागलपुर जिले में 28.918 किलोमीटर सड़क और पुल के निर्माण का काम मुंबई की एफकॉन कंपनी को सौंपा है। परियोजना के तहत कोसी नदी पर 6.94 किमी लंबा पुल का निर्माण कराया जा रहा है। वहीं पुल के दोनों ओर 21.988 किमी एप्रोच रोड का निर्माण हो रहा है।

जुलाई 2024 तक पूरा होगा काम।

जानकारी के अनुसार जुलाई 2024 में इस परियोजना को पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है। इस परियोजना के लिए कुल 996 करोड़ की लागत आएगी। लंबे समय से विचाराधीन रहे एनएच-106 मिसिंग लिंक (30 किलोमीटर) बिहपुर से फुलौत तक कोसी नदी पर बन रहे पुल का पाया हरिओ के त्रिमुहान घाट तक बनाया जा रहा है।

नोट – तस्वीर सांकेतिक है।