मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पटना के छठ घाटों का किया निरीक्षण। अधिकारियों को सभी तरह की व्यवस्था करने के दिए निर्देश।

बिहार में महापर्व छठ की तैयारियां अंतिम चरण में पहुंच चुकी है। इस बीच प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार ने लोक आस्था के महापर्व छठ की तैयारियों को लेकर सड़क मार्ग से विभिन्न छठ घाटों का निरीक्षण किया। इस दौरान जे0पी0 गंगा पथ से होते हुए दीघा के पाटीपुल घाट, जे०पी० सेतु घाट, 93 घाट, 83 घाट, बालूपर घाट, कुर्जी घाट, एल०सी०टी० घाट, पहलवान घाट, अंटा घाट और कलेक्ट्रेट घाट का जायजा लिया।

सीएम ने अधिकारियों को दिए निर्देश।

सीएम ने दीघा के पाटीपुल घाट पर रुककर वहां की जा रही तैयारियों का जायजा लिया। मुख्यमंत्री जे0पी0 गंगा पथ पर रुककर 93 घाट और कलेक्ट्रेट घाट की स्थिति का भी जायजा लिया। निरीक्षण के दौरान मुख्यमंत्री ने घाटों की सफाई, सुरक्षा एवं स्वच्छता के संबंध में अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिया।

मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि छठ व्रतियों को अर्घ्य देने में कोई परेशानी न हो, इसकी व्यवस्था सुनिश्चित करें। छठ व्रतियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए छठ घाटों के पास मजबूत बैरिकेडिंग कराएं। घाटों पर साफ-सफाई एवं स्वच्छता की पूरी व्यवस्था रखें। घाटों के पहुंच पथ एवं गंगा नदी के किनारों की सड़कों के पास छठ व्रतियों के सुचारू आवागमन का प्रबंध कराएं। छठ व्रतियों की सुरक्षा के साथ-साथ उनकी सुविधाओं का विशेष ख्याल रखें ताकि उन्हें अर्घ्य देने में किसी प्रकार की दिक्कत न हो।

2006 से लगातार करते आ रहे निरीक्षण।

निरीक्षण के दौरान पत्रकारों से बात करते हुए मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार ने कहा कि अधिकारियों को निर्देश दिया है कि वो लोगों के बीच प्रचारित कर इस बात की जानकारी दें कि कौन से छठ घाट पर बेहतर इंतजाम किया गया है ताकि छठ व्रती इसके बारे में जान सकें और वहां सुविधापूर्वक पहुंच सकें। लोगों के लिए काम में हम हमेशा लगे रहते हैं। वर्ष 2006 से ही छठ घाटों का निरीक्षण करते रहे हैं ताकि छठ व्रतियों को हर प्रकार की सहूलियत मिले।