वैशाली ठक्कर को भारी पड़ा शादीशुदा बिजनेसमैन से अफेयर। नहीं होने दे रहा था किसी और से शादी। पढ़िए पूरा सुसाइड नोट।

शनिवार की रात को टेलीविजन जगत की जानी-मानी अभिनेत्री वैशाली ठक्कर ने सुसाइड कर लिया था। वैशाली ने एक सुसाइड नोट भी छोड़ा था जिसमें उसने अपने एक्स बॉयफ्रेंड पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया था। इसके अलावा वैशाली का 8 पन्नों का सुसाइड नोट भी बरामद हुआ है। हिंदी न्यूज़ पोर्टल भास्कर डॉट कॉम ने उस सुसाइड नोट के हवाले से वैशाली ठक्कर की जिंदगी के कई राज खोलें हैं।

राहुल नवलानी कर रहा था परेशान।

बता दें कि राहुल नवलानी वैशाली के पड़ोस में ही रहता था। उसके और वैशाली के पिता दोनों एक ही बिजनेस से जुड़े थे। ऐसे में दोनों के बीच संपर्क भी था। राहुल नवलानी पहले से शादीशुदा और दो बच्चों का बाप था।
बावजूद इसके वैशाली ने उससे दोस्ती की ओर फिर दोनों के बीच अफेयर चलने लगा। राहुल के पास वैशाली के कुछ अंतरंग तस्वीरें थी जिससे वह ब्लैकमेल कर रहा था और वैशाली की शादी किसी और से नहीं होने दे रहा था।

वैशाली तीन दिन बाद यानी 20 अक्टूबर को शादी करने वाली थी। इसके लिए ADM के यहां रजिस्ट्रेशन तक करा चुकी थी। वह अमेरिका के कैलिफोर्निया में रहने वाले कारोबारी मिथिलेश गौर से शादी करने वाली थी, जो मूलत: अहमदाबाद के हैं। इस शादी में भी राहुल नवलानी अड़चन डाल रहा था।

सुसाइड नोट में लिखी ये बात।

मां, पापा,

बस ना अब..। बहुत परेशान हो लिए आप लोग भी मेरे लिए और मैं खुद के लिए…। सिर्फ मैं जानती हूं कि मैंने क्या जंग लड़ी है दो साल में। राहुल नवलानी ने मेरे साथ क्या-क्या गलत नहीं किया, मैं बता भी नहीं सकती। किस तरह मेरा शोषण किया इमोशनली और फिजिकली अपमानित किया।

फाइनली उसने जो कहा था कि मैं तेरी शादी नहीं होने दूंगा, उसने वही किया। अब किससे लड़ूं जाकर। मैंने ही उसे इतना अपना मान लिया था एक समय पर कि उसने तो मुझे अपने आप से ही पराया कर दिया।

फाइनली मैं मितेश और मेरे रिश्ते से खुश हुई थी। पर उसने उसे भी तोड़ दिया। थक गई हूं। मुझे अब और कुछ नहीं चाहिए। राहुल और उससे जुड़े जिन लोगों ने मेरी लाइफ बर्बाद की, उन्हें कर्मों की सजा मिलेगी।

पर मैं यहां राहुल की पत्नी दिशा के लिए मेंशन करना चाहती हूं जो उसकी (राहुल की) सच्चाई जानते हुए सबके सामने मुझे गलत बोलती रही। क्योंकि उसको सिर्फ उसका घर बचाना था। और इस बात का राहुल ने फायदा उठाया कि उसका तो कुछ बिगड़ेगा नहीं। पर मेरी लाइफ वो बर्बाद कर पाएगा।

मैं उसे सजा तो नहीं दे सकी, लेकिन उम्मीद है कि कानून और ऊपरवाला उसे सजा देगा। अब इन सबके बीच मैं मेरे पेरेंट्स को परेशान होते नहीं देख सकती। एक बेटी नहीं रहेगी तो उससे जुड़ी परेशानियां भी नहीं रहेंगी।

आई क्विट मां, आई लव यू पापा मां। मैं माफी चाहती हूं कि मैं अच्छी बेटी नहीं थी। प्लीज, राहुल और फैमिली को सजा दिलवाना। राहुल और दिशा ने मुझे ढाई साल मेंटली टॉर्चर किया ​​​​। वर्ना मेरी आत्मा को शांति नहीं मिलेगी। आपको मेरी कसम, खुश रहना।

आई लव यू द मोस्ट, मितेश को मेरी तरफ से सॉरी कहना।

I Quit, वैशाली ठक्कर