सीएम नीतीश ने केंद्र से छठ के लिए और विशेष ट्रेन चलाने की रखी मांग। पहले से भी दर्जनों ट्रेन चला रहा रेलवे।

महापर्व छठ बिहार का सबसे महत्वपूर्ण त्यौहार है। इसे मनाने बिहार से बाहर रहने वाले सभी लोग बिहार पहुंचते हैं। यात्रियों को ट्रेन में सीट नहीं मिल पा रही वहीं हवाई किराया काफी महंगा है। ऐसे में सीएम नीतीश के निर्देश पर मुख्य सचिव आमिर सुबहानी ने रेल मंत्रालय के अधिकारियों को फोन कर बिहार के लिए और अधिक स्पेशल ट्रेन चलाने की मांग की है।

मुख्य सचिव ने फोन कर रखी यह मांग।

मुख्य सचिव ने मंगलवार को रेल मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों से फोन कर कहा कि छठ बिहार का सबसे महत्वपूर्ण पर्व है। इस महापर्व में शामिल होने के लिए बिहार के बाहर रह रहे बिहारवासी बड़ी संख्या में अपने घर बिहार आते हैं। इस वर्ष कोरोना के प्रसार कम होने के कारण बिहार आ रहे लोगों की संख्या में वृद्धि होगी। आने वाले लोगों की बड़ी संख्या को देखते हुए छठ महापर्व के अवसर पर अधिक से अधिक संख्या में विशेष ट्रेनों को चलाए जाने की आवश्यकता है, ताकि आने वाले लोगों को यात्रा में सहूलियत हो।

वित्त मंत्री ने भी ट्रेनों की संख्या बढ़ाने पर दिया जोर।

वहीं वित्त मंत्री विजय कुमार चौधरी ने भी कहा है कि छठ महापर्व बिहार का महत्वपूर्ण त्योहार है। बिहार अथवा देश से बाहर रहने वाले बिहारवासी इस महापर्व को मनाने अपने घरों को आते हैं एवं पर्व संपन्न होने के बाद अपने कामकाज पर वापस लौटते हैं। इस बाबत दिल्ली, मुंबई सहित अन्य महानगरों एवं प्रमुख शहरों से बिहार आने वाले और वापस जाने वाले लोगों के लिए पर्याप्त संख्या में विशेष ट्रेन अन्य वर्षों की भांति चलाया जाना चाहिए।